Sorry, you need to enable JavaScript to visit this website.

युनाइटेड इंडिया इंशयूरेन्स कं लि

१८ फरवरी १९३८ को युनाइटेड इंडिया इंशयूरेन्स कंपनी लिमिटेड को कंपनी के रूप में संस्थापित किया गया । भारत में साधारण बीमा व्यवसाय को १९७२ में राष्ट्रीयकृत किया गया और दक्षिण क्षेत्र के भारतीय जीवन बीमा निगम के साधारण बीमा प्रचालन के अलावा १२ भारतीय बीमा कंपनियां , ४ सहकारी बीमा संस्थायें और ५ विदेशी बीमाकर्ताओं के भारतीय प्रचालन युनाइटेड इंडिया इंशयूरेंस कंपनी लिमिटेड के साथ सम्मिलित हुए । राष्ट्रीयकृत के पशचात् युनाइटेड इंडिया ने अच्छी प्रगति की है और देश भर में 2276 कार्यालयों में कार्यरत 14000 कर्मचारी 1 करोड ग्राहकों को बीमा सुरक्षा प्रदान करते हैं । कंपनी के पास विभिन्न पालिसियां उपलब्ध है जो बैल गाडी से लेकर सैटलाइट तक की सुरक्षा कर सकती है ।

युनाइटेड इंडिया ने ओएनजीसी लि जीएमआर हैदराबाद अन्तर्राष्ट्रीय हवाई हड्डा लि , तिरुमला तिरुपति देवस्थानम जैसे ग्राहकों के जटिल आवरणों को तैयार किया हैं और कार्यान्वित किया हैं । हम भारत सरकार के सार्वभौमिक स्वास्थ्य कार्यक्रम विजया राजी जननी कल्याण योजना ( मध्य प्रदेश राज्य में 45 लाख महिलाओं को आवरित) सुनामी जन बीमा योजना ( 4 राज्यों में 4.59 लाख परिवारों को आवरित) , राष्ट्रीय पशुधन बीमा और कई ऐसी योजनाओं के माध्यम से ग्रामीण जनता तक पहुंचने में अग्रेणी है ।

हमने अपने माइक्रो कार्यालयों के माध्यम से से अधिक द्वित्य और तृतीय श्रेणी के नगरों और गांवों में अस्तित्व स्थापित किया हैं ।

82

वर्षों का अनुभव

1.74 Cr

हैप्पी ग्राहक

100%

संतुष्टि

हमारा लक्ष्य

हम युनाइटेड इंडिया होंगे
  • वैश्विक पदार्पण और पहचान के साथ भारत का सर्वाधिक पसन्दीदा बीमाकर्ता ।
  • सभी हितग्राहियों द्वारा प्रशंसित विश्वसनीय ब्रांड ।
  • उत्कृष्ट तकनीक और बहुमुखी चैनलों के साथ सर्वश्रेष्ठ ग्राहक सेवा प्रदाता ।
  • सभी क्षेत्रों के ग्राहकों की जरूरतों को पूरा करने वाले वृहद नूतन उत्पाद श्रृंखला के प्रदाता ।
  • अत्यधिक संप्रेरित एवं सशक्तीकृत कर्मचारीवर्ग के साथ कार्य का उत्क़ृष्ट स्थल ।
  • अपने योगदान हेतु समाज में स्थापित पहचान के साथ ।

निगमीय लक्ष्य

  • ग्राहक संतुष्टी सुनिशिचत करें ।
  • उचित कारोबार नीति के आधार पर कार्य करें ।
  • राष्ट्रीय व्यर्थ को कम करने आैर भारतीय अर्थव्यवस्था की वृद्धि में सहायता करें ।

Total Visitors - 29513555

chatbox